Saturday, December 07, 2019
Follow us on
 
BREAKING NEWS
पंचकूला बिग ब्रेकिंग एक्सक्लूसिव पंचकूला के मनसा देवी में मकान नंबर 6 पी ओम प्रकाश चौटाला का जो मकान है उसको चंडीगढ़ इ डी द्वारा किया गया सिलअज्ञात वाहन ने मारी टक्कर घायल सनी को तुरंत सेक्टर 6 के अस्पताल में ले जाया गया जहां डॉक्टरों द्वारा सनी को मृत घोषितपंचकूला दंगा मामले में हनीप्रीत समेत सभी आरोपी हुए पंचकूला कोर्ट में पेश पंचकुला ब्रेकिंग हनी प्रीत पहुंची पंचकूला कोर्ट अगली तारीख लगी 13 दिसंबरचंडीगढ़ जिला अदालत व पंजाब एवं हरियाणां हाईकोर्ट को आज 29 अक्टूबर को बम से उड़ाने की धमकी मिलने से पुलिस प्रशासन मुस्तैद हो गया हैबिग ब्रेकिंग * पंचकूला- पंचकूला की राजीव कलोनी में चली तलवारे*-पीएम मोदी बोले- आयुष्मान भारत न्यू इंडिया के क्रांतिकारी कदमों में से एकहरियाणा विघानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपने 78 प्रत्याशियों की पहली सूची की जारी- नई दिल्ली में भा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक राष्ट्रीय कार्यालय में चल रही है।
 
 
 
Chandigarh

भारत में 434 मिलियन से अधिक बच्चे और किशोर हैं जो दुनिया में इस आयुवर्ग में सबसे अधिक है

November 08, 2019 10:11 PM
,चंडीगढ़ -- अग्रजन पत्रिका से इंद्रा गुप्ता-
 ‘‘भारत में 434 मिलियन से अधिक बच्चे और किशोर हैं जो दुनिया में इस आयुवर्ग में सबसे अधिक है। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरोसाइंसिज (एनआईएमएचएएनएस), बेंगलुरु द्वारा केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशन में संचालित किए गए राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य सर्वेक्षण 2015-16, में 13-17 वर्ष आयु वर्ग में 9.8 मिलियन किशोरों का पता चलता है जो अवसाद और अन्य मानसिक स्वास्थ्य विकारों से पीड़ित हैं।’’ ये बात डॉ. बी.एस. चवन, डायरेक्टर प्रिंसिपल, जीएमसीएच और हैड, डिपार्टमेंट ऑफ साइकेट्री, गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (जीएमसीएच), सेक्टर 32 ने आज यहां कहीं। वे आज मनोचिकित्सा विभाग, गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (जीएमसीएच), सेक्टर 32, द्वारा आयोजित इंडियन एसोसिएशन ऑफ चाइल्ड एंड एडोलसेंट मेंटल हेल्थबीइंग की तीन दिवसीय 15वीं  द्विवार्षिक नेशनल कॉन्फ्रेंस के उद्घाटन सत्र में बोल रहे थे। कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन जीएमसीएच में सांसद किरण खेर ने किया। कॉन्फ्रेंस का थीम ‘‘चाइल्ड एंड एडोलसेंट मेंटल हेल्थ: फ्रॉम इंटरवेंशन टू प्रिवेंशन’ है।  कॉन्फ्रेंस के आर्गेनाइजिंग चेयरपर्सन प्रो.बी.एस. चवन ने इस दौरान बताया कि बाल और किशोर मानसिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में विशेष मनोचिकित्सकों की कमी को देखते हुए, यह कॉन्फ्रेंस विशेष रूप से स्टूडेंट्स के लिए काफी कुछ नया सीखने का एक शानदार मौका साबित होगी। 
अपने उद्घाटन संबोधन में खेर ने इस बात पर जोर दिया कि समय पर पहल के रूप में असमान स्वास्थ्य सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों में से एक है जो आज हमारे ध्यान की आवश्यकता है। किरन खेर, एमपी चंडीगढ़ ने जोर देकर कहा कि जो बच्चे हमारे राष्ट्र का भविष्य हैं, उन्हें विशेष देखभाल और ध्यान देने की आवश्यकता है। प्रतिस्पर्धा से उत्पन्न तनाव और तनाव की चरम सीमा उनके प्राकृतिक विकास में बाधा बन रही है। उन्होंने आगे कहा कि भारत में दुनिया में किशोरों और बच्चों की सबसे अधिक संख्या है और इस प्रकार उन्हें ध्यान देने के लिए नीति निर्माताओं, शिक्षकों, माता-पिता और मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल्स की बड़ी जिम्मेदारी है। आईएसीएम के महासचिव प्रो. विवेक अग्रवाल ने मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं की व्यापकता को कम करने के लिए निवारक दृष्टिकोण की भूमिका पर विस्तार से जानकारी प्रदान की। आर्गेनाइजिंग सैकेट्ररी, प्रो. प्रीति अरुण ने कहा कि यह कॉन्फ्रेंस एक ऐतिहासिक कार्यक्रम था जो स्थानीय और साथ ही राष्ट्रीय स्तर पर बाल और किशोर मानसिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में ठोस प्रयासों को बढ़ाता है। लगभग 250 प्रतिनिधियों द्वारा कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लिया जा रहा है और इससे बच्चों और किशोरों के सकारात्मक मानसिक स्वास्थ्य के लिए ज्ञान और कौशल से लैस करने के लिए माता-पिता के साथ-साथ मेंटल हेल्थ और अन्य प्रोफेशनल्स को मदद मिलेगी, जिनमें काउंसलर्स, स्कूल टीचर्स भी शामिल हैं।  इस एकेडमिक आयोजन के पहले दिन ‘डिजिटल वर्ल्ड एंड डेवलपिंग ब्रेन: द रिस्क एंड बैनेफिट्स’ पर एक सीएमई भी आयोजित की गई। इसके बाद विभिन्न सिम्पोजियमों और वर्कशॉप्स का आयोजन किया गया। 
डॉ.शेखर शेषाद्रि, प्रोफेसर, एनआईएमएचएएनएस बैंगलोर और प्रो.राजेश, एम्स, नई दिल्ली के प्रोफेसर राजेश, सिम्पोजियम के स्पीकर्स थे। डॉ.आदर्श कोहली, प्रेसिडेंट, आईएसीएएम ने कहा कि दवाओं के बिना बड़ी संख्या में बचपन के विकारों का प्रबंधन किया जा सकता है, बशर्ते इनका जल्द पता लगा लिया जाए। वहीं अटेंशन डेफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर के लिए पेरेंटिंग स्किल ट्रेनिंग इंटरवेंशन पर एक ट्रेनिंग वर्कशॉप का भी आयोजन किया गया, जिसमें काफी कुछ सीखने का मौका मिला। इसके साथ ही ‘बिहेवरियल एडीक्शन एंड इवोलविंग एपीडेमिक’ पर भी एक जानकारी भरपूर सिम्पोजियम आयोजित किया गया, जिस दौरान इस क्षेत्र में काम करने वाले विशेषज्ञों द्वारा एक और ज्ञानवर्धक विचार-विमर्श किया गया। 
 
Have something to say? Post your comment
More Chandigarh News
पंजाब और हरियाणां हाईकोर्ट के आदेशों पर करवाई करते हुए आज चंडीगढ़ नगर निगम ने शहर की मार्कीटों सहित अन्य सर्वजनिक स्थानों पर बैठे रेहड़ी फड़ी वलों को वेंडर ज़ोन में शिफ्ट करने के लिए मुहीम चलाया गई चंडीगढ़ नगर निगम ने शहर की मार्किटों में अवैध रुप से बैठे वेंडर्स को हचटाने के लिए तैयारी पूरी कर ली
- भाग सिंह दमदमा ने हाईकोर्ट के फैसले का किया स्वागत, कहा- कोर्ट पर भरोसा, सच्चाई की होगी जीत
आईटीआई इंस्ट्रक्टर के पेपर लीक मामले में मैनेजर को गिरफ्तार किया चंडीगढ़ के विभिन्न सेक्टरों की मार्किट में बैठें वेंडर्स नगर निगम के स्ट्रीट वेंडर्स एक्ट के खिलाफ आज रोष व्यक्त करते हुए सेक्टर 19 के सदर बाजार की पार्किंग में चंडीगढ़ प्रशासन और नगर निगम के खिलाफ मुंह पर काला कपड़ा बांध शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया
हरियाणा पुलिस द्वारा शराब तस्करी पर शिकंजा कस्ते हुए जिला झज्जर में एक टेम्पो में भरकर तस्करी के लिए ले जाई जा रही अवैध शराब की 200 पेटीयां बरामद की गई
महिलाओं की सुरक्षा के प्रति बढ़ रही चिंता के मद्देनजऱ पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने रात 9 बजे से प्रात:काल 6 बजे के दरमियान महिलाओं को घर जाने के लिए उपयुक्त साधन न मिलने की सूरत में उनको सुरक्षित घर पहुँचाने के लिए मुफ़्त पुलिस सहायता मुहैया करवाने का किया ऐलान
चंडीगढ़ में 24 घंटे पानी सप्लाई के लिए फ्रांस सरकार से लिया जाने वाला कर्ज के संबंध में आज फ्रांस की कम्पनी के प्रतिनिधियों से परियोजना के तकनीकी पहलुओं पर चर्चा की गई वायु और ध्वनि प्रदूषण से बढ़ रहे ग्लोबल वार्मिंग से समाज को निजात दिलाने की दिशा में एक ऐसा उत्पाद तैयार किया
करीब 22 लाख रुपये की 218 ग्राम हेरोइन सहित तीन युवक काबू।