Tuesday, November 12, 2019
Follow us on
 
BREAKING NEWS
चंडीगढ़ जिला अदालत व पंजाब एवं हरियाणां हाईकोर्ट को आज 29 अक्टूबर को बम से उड़ाने की धमकी मिलने से पुलिस प्रशासन मुस्तैद हो गया हैबिग ब्रेकिंग * पंचकूला- पंचकूला की राजीव कलोनी में चली तलवारे*-पीएम मोदी बोले- आयुष्मान भारत न्यू इंडिया के क्रांतिकारी कदमों में से एकहरियाणा विघानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपने 78 प्रत्याशियों की पहली सूची की जारी- नई दिल्ली में भा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक राष्ट्रीय कार्यालय में चल रही है। प्याज पर सरकार का बड़ा फैसला, निर्यात पर तत्काल प्रभाव से लगाई रोकदिल्ली उतरा पीएम मोदी का विमान, स्वागत को एयरपोर्ट पर उमड़े कार्यकर्ताUN में भारत ने पाकिस्तान को धोया, कहा- अल कायदा-ISIS आतंकी को देता है पेंशन!
 
 
 
Haryana

-रोडवेज प्रशासन व यूनियन के मध्य हुई मांग पत्र को लेकर एक बैठक हुई।

November 07, 2019 08:52 PM
अम्बाला, 7 नवम्बर:- अग्रजन पत्रिका से इंद्रा गुप्ता-   रोडवेज प्रशासन व यूनियन के मध्य हुई मांग पत्र को लेकर एक बैठक हुई। यूनियन द्वारा दिए गए मांगपत्र पर  और दूसरी यूनियनों द्वारा सम्मिलित रूप से दिए मांगपत्र पर नियमानुसार  कारवाही अमल में लाई गई। जीएम रोड़वेज गौरी मिड्डïा ने बताया कि सभी पात्र कर्मचारी 2 साल की संतोषजनक सेवा उपरांत लगभग कन्फर्म किए जा चुके है। कोई भी मेडिकल बिल कार्यलय में लंबित नहीं है। उपलब्ध बजट अनुसार टी0 ए0 ,ओवरटाइम व अप्रेंटिस वेतन का भुगतान किया जा चुका है, बजट प्राप्त होने पर शेष भुगतान कर दिया जाएगा।
वर्ष 2018-19 के सभी वर्दी जुतों के भत्तों का भुगतान पहले किया जा चुका है तथा 2019-20 का बजट  दिसम्बर-जनवरी में सम्भावित है । एस्मा के  कोर्ट केसों, जिनमें एफआईआर निलंबन है  को छोडक़र सभी कर्मचारियों के हड़ताल के दिनों के वेतन के भुगतान के निर्देश जारी किए जा चुके हैं । एस्मा कोर्ट केसों में मुख्यालय के आदेशानुसार कार्यवाही कर दी जाएगी जिसके लिए पत्र लिखा जा चुका है । उन्होंने यह भी बताया कि कार्यालय में आवेदन करने वाले सभी कर्मचारियों की एल0 टी0 सी0 का भुगतान किया जा चुका है। कार्यालय में कोई भी एल0टी0सी0 का आवेदन लंबित नहीं है। सभी पात्र कर्मचारियों व जिनके विरूद्ध कोई जाँच लम्बित नहीं है ,को एसीपी का लाभ दिया जा चुका है। सभी कर्मचारियों को मुख्यालय के आदेशानुसार राजपत्रित अवकाश देना एक सतत प्रक्रिया है, जो नियमानुसार दिए जा रहे है।
उन्होंने यह भी बताया कि कर्मचारी हितो में मांगपत्र की महाप्रबंधक स्तर की 99 प्रतिशत मांगों पर कार्यवाही की जा चुकी है। यूनियन द्वारा 56 चालकों की केएमपीएल रिकवरी का आरोप तथ्यों से परे व निराधार है। कम केएमपीएल की वजह से केवल 11 चालको से रिकवरी की गई है जिनको बार बार कहने उपरांत भी मुख्यालय द्वारा निर्धारित 5 किलोमीटर से बहुत कम ( 3.8-4.3)के साथ साथ   आय प्रति किलॉमेटर भी बहुत कम दी जा रही थी । उनसे भी केवल  नाममात्र / टोकन रिकवरी ही की गई है। इस बारे में यूनियन को अवगत करवाया गया है। उनहोंने यह भी कहा कि भविष्य में  मांग पर  कर्मचारी सहानूभूतिपूर्वक  के साथ असाधारण मामलों में ही रिकवरी की जाएगी।  किसी भी परिचालक की रीसिट के नाम पर कोई रिकवरी नहीं की गई है।
मुख्यालय के नियमों व हिदायतों अनुरूप व यातायात शाखा द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट अनुसार केवल वो ही रात्रि ठहराव बंद किए गए हैं जो या तो अन्य राज्यों के गावों में हो रहे थे या अन्य जिलों के गावों में या एक ही मार्ग पर एक से अधिक गावों में हो रहे थे। भवन से सम्बंधित कामों को भी करने की प्रक्रिया जारी है । यूनियन पदाधिकारी व कर्मचारी प्रशासन को अपना अच्छा सहयोगी समझते हुए डीपो के हित में काम करें क्यूँकि यह डीपो उनका अपना ही है । जनता की सेवा हम सबकी सांझी जिम्मेदारी है।

Have something to say? Post your comment
More Haryana News
प्याज के जमाखोरों पर शिकंजा, देशभर में 100 स्थानों पर इंकम टैक्स की छापेमारी*
जिला रोहतक में जिम्नास्टिक खेल की आरटिस्टिक व रिदमिक प्रतियोगिता का आयोजन करवाया गया।
चित्रा सरवारा ने 5 प्यारों को सिरोपा भेटं कर फूलमालाओं से किया स्वागत
अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद पर सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय को एक संतुलित निर्णय बताते हुए हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इस निर्णय से दोनों पक्षों को उनके अधिकार मिल सके
अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद पर सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय को एक एतिहासिक निर्णय बताते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय ने एक स्थायी समाधान दिया है
-फाने या अवशेष जलाने से पर्यावरण होता है दूषित--फाने जलाने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई।
-उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने फानों को नही जलाने व वायु प्रदूषण के विषय पर सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये
-ड्रेन और नालों की सफाई में किसी भी प्रकार की ढिलाई न बरतें अधिकारी--किसी भी प्रकार की लापरवाही के लिये खुद होंगे जिम्मेदारी:-डी.सी. अशोक कुमार शर्मा
-जिला एवं सत्र न्यायाधीश कमलकांत के निर्देेशानुसार सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, दानिश गुप्ता, द्वारा आज केन्द्रीय कारागार, अम्बाला में लोक अदालत लगाई
-पर्यावरण संरक्षण के महत्व बारे समझाते हुए बढते हुए वायु प्रदूषण से होने वाले स्वास्थ्य संबधी दुष्परिणामों बारे विस्तार से अवगत करवाया